BREAKING NEWS
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : एमपी 44 पासिंग पिकअप वाहन और राजस्थान का.. <<     देवास पुलिस की बड़ी कार्रवाई ,इतनी पेटी बियर.. <<     शिवपुरी में एक ट्रक में शव मिलने से फैली.. <<     क्यों पहुँचे DIG शाजापुर , जिले के पुलिस विभाग.. <<     KHABAR : नीमच जिले में पल्स पोलियों टीकाकरण.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : जिले में एक लाख 6 हजार से अधिक बच्‍चों को.. <<     ऐसा क्या हुआ जो मिले दो पार्षद, कलेकटर के नाम.. <<     BIG NEWS : मंदसौर जिले की नारायणगढ़ थाना पुलिस और.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के.. <<     BIG NEWS : मंदसौर जिले का ग्राम गोपालपुरा और शराब.. <<     गोवंश से भरा ट्रक हिंदू संगठन के लोगों ने.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     OMG: नीमच में ’’सिंघम मोड’’ में सूबेदार सोनू.. <<     KHABAR : नीमच के सीएसवी अग्रोहा भवन में बालिकाओं व.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : योग से मनुष्य का शारीरिक, मानसिक एवं.. <<     शिवपुरी में रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना, 5.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
June 4, 2023, 12:38 pm
KHABAR : फिल्मों में परोसी जा रही फूहड़ता पर सेमिनार, भारत सरकार के सूचना आयुक्त उदय माहूरकर बोले- ओ टी टी और सोशल मीडिया रेप का मुख्य कारण, पढे़ खबर 

Share On:-

इंदौर में शनिवार को ओटीटी, सोशल मीडिया और फिल्मों में परोसी जा रही फूहड़ता को लेकर व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम शहर के प्रीतमलाल दुआ सभागार में इंदौर प्रेस क्लब, इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल और पत्रकारिता एवं जनसंचार अध्ययनशाला देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के द्वारा अयोजित किया गया। मुख्य वक्ता सेव कल्चर सेव नेशन के मुख्य संरक्षक एवं भारत सरकार के सूचना आयुक्त उदय माहूरकर रहे। कार्यक्रम में पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन (ताई) और सांसद शंकर लालवानी भी उपस्थित रहे।


सेव कल्चर सेव नेशन के मुख्य संरक्षक एवं भारत सरकार के सूचना आयुक्त उदय माहूरकर ने कहा कि सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेट फॉर्म रेप का मुख्य कारण है। इस पर जो कंटेंट परोसे जा रहे हैं उसे रोकना जारूरी है। जो लोग मनोरंजन के नाम पर वीभत्स परोस रहे हैं उनके खिलाफ समाज को एक होना पड़ेगा। इसके लिए सरकार को कानून का गठन करने के लिए सुझाव भी दिए गए हैं। इसमें एथिक्स कोड लॉ के रुप में होना चाहिए। साथ ही सीन की, थीम की, कपड़ों की और भाषा की परिमिसिवल लिमिट तय होनी चाहिए। इसके बाद भी कोई डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, एक्टर, एक्ट्रेस और फोटो ग्राफर अगर नियम का उलंघन करता है तो उसके खिलाफ बलात्कार को उकसाने का केस दर्ज होना चाहिए।


उदय माहूरकर ने आगे कहा कि सभी ऑडियो-विजुअल प्लेटफॉम के लिए ज्वाइंट रेगुलेटरी अथॉरिटी बने। इसमें जितना कंटेट है उसे आईटी एक्ट में सुधार करके एक ग्रुप में डाल दिया जाए। ग्रुप की एक्सेसविलिटी आधार कार्ड और फिंगर प्रिंट के जरिए की जानी चाहिए। साथ ही जो भी पोर्न साइड देखे उसके पास एक संदेश भेजा जाए की तुमने साइड देखी। इससे लोग डरेंगे।


माहूरकर का कहना है कि प्रधानमंत्री ने 2047 में भारत को आर्थिक, सैन्य और टेक्नालॉजी में महान देश बनाने की बात कर रहे हैं, लेकिन सवाल यह है कि क्या भारत संस्कृति में कंगाल देश बनेगा? अगर इसी तरह से कंटेंट परोसे गए तो भारत की हालत अमेरिका की तरह हो सकती है। कृश्चन धर्म में एक पतिव्रता और उसके पर्सनल चरित्र पर काफी भार है। इसके बाद भी पश्चिम के देशों ने वीभत्स मटेरियल को स्वीकार किया है। इसलिए 12-13 साल के बच्चे अलग हो जाते हैं।


माहुरकर ने कहा कि ओटीटी व सोशल मीडिया पर बढ़ती अश्लीलता के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत वे राष्ट्रीय, प्रदेश व जिला स्तर पर भी प्रबुद्धजनों को साथ लेकर समितियां बनाने जा रहे हैं। ये समितियां बढ़ती अश्लीलता के खिलाफ अभियान चलाएगी।


कार्यक्रम पहुंचे लोगों को संबोधित कर रहीं पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि सोशल मीडिया पर फॉलोवर कितने हैं ये मायने नहीं रखता मायने ये रखता है कि फॉलो करने वाले लोग कौन हैं। उन्होंने कहा कि जब हम राजनीति में आए थे तब के दौर में मोबाइल बहुत कम थे। जो फिल्में रिलीज होती उनके पोस्टर चौराहों पर लगते थे। तब शहर की महिलाओं के साथ मिलकर पोस्टर के खिलाफ आंदोलन छेंडा था। महिलाओं के साथ लकड़ी लेकर निकलते और पोस्टर को फाड़ने का काम किया था।


 

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE