BREAKING NEWS
KHABAR : क्षेत्र की ग्राम पंचायत देवरी खवासा में.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : इंदौर में जनविकास सोसाइटी का आत्मरक्षा.. <<     KHABAR : लाड़ली बहना योजना से वंचित महिलाएं पहुंची.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : तेज रफ्तार ब्रेजा कार और 91 किलो अवैध मादक.. <<     KHABAR : इंदौर में सामाजिक, सांस्कृतिक संस्था.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : उत्कृष्ट विद्यालय में स्कूल चले हम.. <<     BIG NEWS : लव, सेक्स और धोखा, स्कूल के वक्त हुआ नईम से.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : स्कूल में तिलक लगाकर स्टूडेंट्स का.. <<     KHABAR : स्कूल चले हम प्रवेश उत्सव कार्यक्रम के.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : खाटूश्याम मंदिर समिति ने किया नपाध्यक्ष.. <<     KHABAR : सिविल लाइन चौराहे से गौर प्रतिमा हटाने का.. <<     BIG REPORT : मंदसौर पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : 4 साल का रोडमैप तैयार कर रही बीजेपी, छोटी.. <<     KHABAR : प्रवेश उत्सव पर बच्चों का तिलक, किताबें.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
May 28, 2024, 3:19 pm
BIG NEWS : श्री हर्कियाखाल बालाजी का चमत्कार, डॉक्टरों ने छोड़ा साथ तो आईसीयू में पहुंचे संत, फिर हुआ कुछ ऐसा.., परिजनों ने सुनाई दास्तां, पढ़े खबर 

Share On:-

नीमच। पिछले 5 महीनों से बीमार चल रहे पिपलिया मंडी निवासी जीतू अग्रवाल का भानेज भीलवाड़ा वाले का भोपाल इलाज चल रहा था। चुकी कुछ दिन पहले भोपाल में डॉक्टर ने कहा था की कहीं और ले जाओ इलाज नहीं लग रहा है। वहां से परिवार जन ने तुरन्त चंडीगढ़ (पंजाब) रैफर किया। वहां भी कंडीशन देखकर डॉक्टर ने मना किया।  उसके पश्चात श्री बालाजी की कृपा का मैं क्या बखान करु कि मेरे द्वारा गुरुजी को अर्जी लगाई गई। उसी दौरान शाम को हॉस्पिटल में एक संत परिवार जनों के पास आकर बोले बालक से 2 मिनिट अकेले में मिलना है। उस दौरान परिवार जनों ने आईसीयू में  मुलाकत के लिए संत को भेजा। उस संत ने बालक से कहा कि अपनी आंखें बंद करो उस पश्चात बालाजी स्वयं प्रकट हुवे उसके बाद परिवार जनों ने आईसीयू में जाकर देखा। वहां संत नहीं दिखे तो बालक से पूछा तो बालक ने बताया कि मुझे अभी बालाजी के दर्शन हुए उस दौरान पूरे हॉस्पिटल में संत को ढूंढा तो संत अदृश्य हो गए। उसके 3 दिन बाद मेरा भांजा बिल्कुल स्वस्थ हो गया और आज मंदिर पहुंचकर बालाजी का आशीर्वाद लिया। बालाजी ऐसी कृपा सभी भक्तों पर बनाये रखे ।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE